World

फेसबुक डाटा लीक: अमेरिकी सीनेट में जुकरबर्ग ने मांगी माफी, कहा- भारतीय चुनाव में पूरी ईमानदारी बरतेंगे

Mark zuckerberg apologies

Mark zuckerberg apologies

Download Our Android App Online Hindi News

डाटा लीक को लेकर पूरी दुनिया में आलोचना का शिकार होने वाले फेसबुक के संचालक और CEO मार्क जुकरबर्ग ने सोमवार को अमेरिकी सेनेट के सामने पेश होकर माफी मांग ली है। साथ ही उन्होंने फेसबुक के जरिए हुई गड़बड़ियों की जिम्मेदारी लेते हुए  चुनावों के दौरान लोगों का भरोसा बहाल बनाए रखने की बात कही। जुकरबर्ग ने कहा कि भारत में आगामी चुनावों के दौरान पूरी सर्तकता बरती जाएगी।

जुड़ें हिंदी TRN से

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी कांग्रेस में पेशी के दौरान जकरबर्ग ने कहा, ‘हमारी यह जिम्मेदारी है कि केवल टूल्स ही ना बनाएं, बल्कि यह भी आश्वस्त करें कि उन टूल्स का इस्तेमाल अच्छे के लिए हो। यह स्पष्ट है कि हम टूल्स का इस्तेमाल गलत चीजों के लिए होने से रोक नहीं पाए।

ये खबर भी पढ़ें  सीरिया संकट: अमेरिका आतंकवाद की आड़ में मासूमों को बना रहा है निशाना, यौन शोषण का शिकार हो रही महिलाएं

फेक न्यूज, हेट स्पीच, चुनावों में विदेशी हस्तक्षेप, डाटा की निजता जैसे नुकसान को रोकने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठा पाए। हम अपनी जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से नहीं निभा पाए। यह बड़ी गलती है और मैं माफी मांगता हूं। मैंने फेसबुक शुरू किया, मैं इसे चलाता हूं और यहां जो कुछ भी होता है उसके लिए मैं ही जिम्मेदार भी हूं।’

Mark zuckerberg apologies

उन्होंने कहा, ‘हम आश्वस्त करते हैं कि भारत में आगामी चुनावों के दौरान सर्तकता बरतने में अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे। 2016 में हुए अमेरिकी चुनावों के बाद हमारी प्राथमिकता दुनिया भर में हो रहे चुनावों में सर्तकता बरतने की है। डेटा प्राइवेसी और चुनावों में विदेशी हस्तक्षेप ही वह सबसे बड़े मसले हैं, जिनका सामना कंपनी करती है। इन अधिकारों को अच्छे से निभाने की जिम्मेदारी बहुत बड़ी है।’

ये खबर भी पढ़ें  भारत में सरकार की आलोचना करने वाले मीडिया संस्थानों को परेशान किया जा रहा: अमेरिकी विदेश विभाग

रिपोर्ट के मुताबिक, जकरबर्ग ने कहा, ‘हम जांच कर रहे हैं कि कैम्ब्रिज एनालिटिका ने क्या गोपनीय जानकारी जुटाई। अब हमें पता है कि उन्होंने किसी ऐप डिवेलपर से खरीद कर लाखों लोगों की जानकारी, जैसे नाम, प्रोफाइल पिक्चर्स और फॉलो किए जाने वाले पेजों की जानकारी गलत तरीके से जुटाई गई।’

गौरतलब है कि 33 वर्षीय जुकरबर्ग इन दिनों कारोबार में जबरदस्त संकट का सामना कर रहे हैं। वे अब हाउस पैनल के सामने करोड़ों यूजरों के डाटा चोरी होने को लेकर बयान देंगे।

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top