BJP excuses for breaking alliance with PDP
BJP excuses for breaking alliance with PDP

BJP excuses for breaking alliance with PDP

Install Ravish Kumar App

Install Ravish Kumar App Ravish Kumar.

बीजेपी को 2019 का ध्यान में रखते हुए PDP से गठबंधन तोड़ना था, इसलिए तोड़ दिया। बीजेपी कश्मीर पर जो भी फैसला लेती है उसमे ये भी हिसाब होता है कि हिंदी भाषी प्रदेशों में उसका क्या लाभ मिलेगा। कश्मीर पर फैसला कश्मीर के लिए कम और हिंदी भाषी प्रदेशों की राजनीति सेट करने के लिए ज्यादा होता है।

19 जून को PDP से गठबंधन तोड़ने की घोषणा करते हुए बीजेपी के महासचिव राम माधव ने कहा कि जम्मू कश्मीर में मीडिया की आजादी अब खतरे में आ गई है। राम माधव ये बाताना चाहते थें कि कश्मीर में मीडिया की आजादी को लेकर बीजेपी चिंतित हैं। और यही वजह है कि PDP से गठबंधन तोड़ रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें  RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- 'संघ नहीं चाहता ‘कांग्रेस मुक्त भारत’

राम माधव ने शुजात बुखारी की हत्या का जिक्र करते हुए घाटी में जिस तरह से पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या की गई, वह निंदनीय है। जम्मू कश्मीर में मीडिया की आजादी अब खतरे में आ गई है।

जबकि हकिकत ये है कि देशभर के मीडिया की आजादी खतरे में है। जगह-जगह पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं। अभी पिछले दिनों ही (8 अप्रैल) उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में टीवी पत्रकार अनुज चौधरी को उनके घर में घुसकर गोली मार दी गई थी।

ये खबर भी पढ़ें  अभिसार शर्मा: उम्मीद है मोदीजी एक शब्द, गोरखपुर में पसरे मौत के सन्नाटे के बारे में कहेंगे
BJP excuses for breaking alliance with PDP

उत्तर प्रदेश में फर्जी एनकाउंटर स्पेशलिस्ट योगी आदित्यनाथ की सरकार है। तो क्या बीजेपी मीडिया की आज़ादी के खातिर उत्तर प्रदेश की सत्ता भी छोड़ देगी?

सिर्फ उत्तर प्रदेश ही क्यों, देशभर के कई पत्रकारों को खतरा है। NDTV के पत्रकार रवीश कुमार को लगातार जान से मारने की घमकी दी जा रही है। राणा आयूब को जान से मारने की घमकी मिल रही है। पत्रकार गौरी लंकेश को उकने घर के बाहर गोली माकर हत्या कर दी गई।

ये खबर भी पढ़ें  माया-मुलायम-अखिलेश ने योगी को ठीक उसी तरह बचाया जैसे कांग्रेस ने मोदी को

‘रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स’ की ताजा रैंकिंग में भारत को 138 रैंक पर पहुंच चुका है जबकि पिछले साल 136 रैंक पर था। यानी मोदी सरकार में देशभर की मीडिया की आजादी खत्म को खतरा है। तो क्या बीजेपी इसके लिए केंद्र की सत्ता भी छोड़ने वाली है?

Source:http://boltaup.com