Press "Enter" to skip to content

UP डीजीपी ने कहा- भारतीय पुलिस से ज्यादा बेहतर थी ब्रिटिश पुलिस

UP DGP sulkhan singh says

उत्तर प्रदेश के डीजेपी सुलखान सिंह ने ब्रिटिश पुलिस को भारतीय पुलिस से कई मामलों में बेहतर बताया है। उन्होंने कहा कि ब्रिटिश पुलिस व्यवहार और ईमानदारी के साथ ही बहुत से मामलों में हमारी मौजूदा पुलिस से काफी बेहतर थी।

उन्होंने दावा करते हुए कहा कि ब्रिटिश पुलिस के खिलाफ पूरे स्वतंत्रता संग्राम व भारतीयों के संघर्ष कई उदाहरण मिल जाएंगे, लेकिन अपकों उनमें एक भी फर्जी केस, फर्जी एंकाउंटर, फर्जी सबूत व फर्जी जांच नहीं मिलेगी। डीजीपी ने कहा कि अगर ब्रिटिश विदेशी और निर्दयी थे, फिर भी आचार सहिंता का पालन करते थे।

UP DGP sulkhan singh says

सुलखान सिंह ने बताया कि ब्रिटिश जेलों में अंग्रेजी जेलर कैदियों के स्वास्थ्य और साफ- सफाई का काफी ख्याल रखा करते थे, जबकि इनमें कई भारतीय कैदी थे। कैदियों को गुड दिया था ताकि जेल की सफाई के चलते उनके गले और फेफड़ों को सुरक्षित रखा जा सके। जो कैदी रस्सी बनाने का कम करते थे, उन्हें सरसों का तेल दिया जाता था जिसे वह अच्छे से अपने हाथों पर लगाकर स्किन की बीमारी से बच सके।

उन्होंने आगे ककौरी केस का उदाहरण दिया कि ब्रिटिश पुलिस ने आरोपी के परिवार के किसी भी सदस्य को इस केस के दौरान प्रताड़ित नहीं किया था हालांकि मौजूदा पुलिस मामला संदिध्द होने पर ही किसी के घर में बिना FIR और शिकायत के घुस जाती है। इन सब के बात सुलखान सिंह ने कहा कि स्पष्ट रूप से यह कहा जा सकता है कि जेल प्रशासन भारतीयों की तुलना में ब्रिटिश के हाथों में ज्यादा अच्छा था।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: