Unnao rape case CBI files chargesheet

Unnao rape case CBI files chargesheet

Install Ravish Kumar App

Install Ravish Kumar App Ravish Kumar.

उत्तर प्रदेश के उन्नाव गैंगरेप केस में सीबीआई ने 90 दिनों की जांच के बाद चार्जशीत दाखिल कर दी है।  चार्जशीट में BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को मुख्य आरोपी के साथ उनके भाई अतुल सिंह और अन्य 5 लोगों पर उन्नाव पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में केस दर्ज कर लिया है। इस मामले की जांच कर रहे अनिल कुमार कर रहे थे।

न्यूज वेबसाइट बोलता यूपी.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, दरअसल उन्नाव की एक युवती ने आरोप लगाए थे कि 4 जून 2017 को उसके साथ भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने रेप किया। शिकायत के बाद भी महीनों तक यूपी पुलिस ने आरोपी विधायक को गिरफ्तार नहीं किया था।

ये खबर भी पढ़ें  मुख्तार अंसारी को जान का खतरा: हत्या की साजिश की आशंका जताई

इस भाजपा विधायक के भाई ने पीड़िता के पिता को पीटा जिसके बाद उनकी मौत हो गई। इस सब के बाद योगी सरकार की बहुत किरकिरी हो रही थी जिसके बाद मुख्यमंत्री ने केस सीबीआई को देने का फैसला किया। अप्रैल 2018 में सीबीआई ने इस मामले के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

Unnao rape case CBI files chargesheet

रिपोर्ट के मुताबिक, अब बीजेपी विधायक के भाई अतुल सिंह पर सीबीआई ने धारा 363 (अपहरण), 366 (महिला का अपहरण करना), 376 (बलात्कार) और धारा 506 (आपराधिक धमकी देना) का मामला आईपीसी और POCSO (प्रोटेक्शन आफ चिल्ड्रेन फ्राम सेक्सुअल अफेंसेस एक्ट है) कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

ये खबर भी पढ़ें  फ़्रांस ‘राफेल समझौते’ की जानकारी साझा करने को तैयार, फिर क्यों बहाने बना रही है मोदी सरकार?

गौरतलब है कि, इतना सब हो जाने के बाद भी बीजेपी और योगी सरकार ने कुलदीप सिंह को पार्टी से नहीं निकाला है। फिलहाल बीजेपी विधायक सीतापुर की जेल बंद है और ऐसे में उनका बीजेपी में बने रहना बेटी बचाव की मुहीम को भी जुमला साबित कर रही है।