Press "Enter" to skip to content

सबरीमाला विवाद: वायरल ऑडियो ने खोली BJP की साजिश की पोल, केरल BJP अध्यक्ष ने माना- ‘मंदिर के पुजारी को उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करने का दिया था आदेश’

Sabarimala row BJP exposed

देशभर में लोकसभा चुनाव होने में बहुत ही कम समय बाकी रह गया है। इससे पहले साल के अंत में पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने देश में चुनावी माहौल को देखकर अपनी धर्म की राजनीति करना भी शुरू कर दिया है।

जी हाँ, बीजेपी इस समय दो मुद्दों पर धर्म की राजनीति करती दिख रही है। पहला तो बीजेपी का सालों पुराना वोट बैंक आयोध्य में राम मंदिर बनाने का है और दूसरा मुद्दा केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को प्रवेश नहीं दिए जाने का हैं।

दरअसल, सूप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की इजाजत दे दी है, लेकिन बीजेपी कोर्ट के इस फ़ैसले का विरोध कर रही है। गौरतलब है कि, कोर्ट के आदेश के बाद सबरीमला में पिछले महीने प्रदर्शन हुए थे। मंदिर परिसर में तनावपूर्ण माहौल देखा गया और कई जगह हिंसा की खबरें सुनने को मिली थी।

Sabarimala
Sabarimala

सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद भी कोई महिला मंदिर में प्रवेश नहीं कर पाई। दो पत्रकारों समेत अभी तक 9 महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की थी। लेकिन एक भी मंदिर में प्रवेश करने में सफल न हो सकी। इन सभी को श्रद्धालुओं के कड़े विरोध का सामना करना पड़ा था।

बता दें कि, हाल ही में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी सूप्रीम कोर्ट को चेतावनी देते हुए कहा था कि कोर्ट को केवल वही आदेश देना चाहिए जो लागू हो सके। साथ ही शाह ने कहा कि सबरीमाला की परंपराओं की रक्षा के लिए भारतीय जनता पार्टी किसी भी हद तक जाएगी।

वहीं, विपक्ष ने अमित शाह के इस बयान की कड़ी आलोचना करते हुए इसे सुप्रीम कोर्ट, संविधान और देश की न्यायिक प्रणाली पर हमला बताया था।

सबरीमाला मंदिर पर बीजेपी की साजिश का पर्दाफाश-

इसी बीच, एक वायरल ऑडियो ने सबरीमाला मंदिर पर बीजेपी की सबसे बड़ी साजिश का पर्दाफाश कर दिया है। जिसमें यह खुलासा हुआ है कि केरल के सबरीमाला मंदिर विवाद को बीजेपी एक सुनहरे मौके की तरह देखती है। इसलिए वो जानबूझकर सूप्रीम कोर्ट के फ़ैसले का विरोध कर रही है।

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, केरल बीजेपी प्रमुख पीएस श्रीधरन पिल्लई का एक कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने से सबरीमाला पर ध्रुवीकरण और तेज हो गया है। सीपीएम और आरएसएस से जुड़े कई संगठन आमने-सामने आ गए हैं।

पिल्लई इस वीडियो में कह रहे हैं कि बीजेपी ने सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ पहले से ही योजना बना रखी है। साथ ही वायरल ऑडियो में वह ये कहते सुनाई दे रहे हैं कि सबरीमाला विवाद बीजेपी के लिए “सुनहरा मौका” था।

केरल के बीजेपी अध्यक्ष श्रीधरन पिल्लई का कथित ऑडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वायरल ऑडियो में केरल BJP अध्यक्ष कहते सुनाई दे रहे हैं कि सबरीमाला के पुजारी ने उनसे सलाह ली थी कि 10 से 50 साल की कोई महिला मंदिर में घुसने की कोशिश करेगी तो वह कपाट बंद कर देंगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह ऑडियो क्लिप पिछले दिनों कोझीकोड में आयोजित बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यक्रम का है, जिसे पिल्लई ने संबोधित किया था। ऑडियो में श्रीधरन पिल्लई कथित तौर पर कह रहे हैं कि मुख्य पुजारी कुंडारारु राजीवारु मंदिर के द्वार बंद करने को लेकर दुविधा में थे। उन्हें कोर्ट की अवमानना का डर था, लेकिन उनसे (पिल्लई से) बात करने के बाद उन्होंने मंदिर का मुख्य द्वार बंद करने का फैसला लिया।

sabarimala_1
sabarimala_1
Sabarimala row BJP exposed

पिल्लई कहते हैं, “तांत्रिक समुदाय को बीजेपी और उसके राज्य प्रमुख में अधिक विश्वास है। जब महिलाएं सबरीमाला में प्रवेश करने वाली थीं, तो उन्होंने मुझसे बात की। मैंने उसे एक शब्द कहा और यह संयोग से सच हो गया। वह मंदिर के दरवाजे बंद करने को लेकर थोड़ा परेशान था कि कहीं ऐसा कर वह अदालत की अवमानना के दायरे मे ना आ जाए। उस दौरान मैं भी उन लोगों में शामिल था, जिनसे उसने संपर्क किया था। ”

ऑडियो में बीजेपी अध्यक्ष आगे कहते हैं, “मैंने उससे कहा कि वह अकेला नहीं है। अगर अवमानना का मामला चलेगा तो हमारे खिलाफ पहले चलेगा। उनका साथ देने क लिए हजारों लोग होंगे। हमारी बात पर उसने एक मजबूत फैसला किया। उस निर्णय ने वास्तव में पुलिस को कहीं का नहीं छोड़ा था और प्रशासन परेशान था। हमें आशा है कि वह इसे फिर से दोहराएंगे। बाद में, पहले मैं आरोपी बना और वह अदालत की अवमानना का दूसरा आरोपी बना। इसके बाद उनका आत्मविश्वास बढ़ गया।”

केरल मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने BJP पर बोला हमला-

इस ऑडियो पर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि लोगों को बीजेपी का गेम प्लान समझना चाहिए। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा कि बीजेपी की घृणित राजनीति का पर्दाफाश हो गया है। सबूत सामने आ गया है कि राज्य में बीजेपी नेताओं ने सबरीमाला को लेकर विवाद पैदा किया। यह बात भी दर्ज किया जाना चाहिए कि इसमें बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वयं भी शामिल थे। यह बेहद निंदनीय है।

केरल BJP अध्यक्ष पिल्लई ने दी सफाई-

वहीं, ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद, पिल्लई ने सफाई देते हए कहा कि वह एक राजनीतिक नेता और कानूनी सलाहकार के रूप में पुजारी को कानूनी राय दे रहे थे। लेकिन उन्होंने “सुनहरे अवसर” शब्द के उपयोग पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। आपको बता दें कि

 

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: