Press "Enter" to skip to content

अर्थव्यवस्था संभालने में नाकाम मोदी सरकार, डॉलर के मुक़ाबले रुपए में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट, 75 के करीब रुपया

Rupee hits new record low 74.45

प्रधानमंत्री मोदी ने 15 अगस्त, 2018 को लालकिले की प्राचीर से दावा किया था कि भारतीय अर्थव्यवस्था का सोया हुआ हाथी अब जाग चुका है। सोए हुए हाथी ने अपनी दौड़ शुरू कर दी है। भारत जोखिमभरी अर्थव्यवस्था की छवि तोड़कर कई खरब डॉलर के निवेश की मंजिल के रूप में उभरा है।

आने वाले 30 वर्षों तक भारत वैश्विक अर्थव्यवस्था को गति देगा। लेकिन, डॉलर के मुक़ाबले लगातार टूटता-कमजोर होता रुपया तो यही कहानी बयां कर रहा है कि मोदी सरकार अर्थव्यवस्था संभालने में पूरी तरह से नाकाम हो गई है।

द वायर की रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार (11 अक्टूबर) को डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपए में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। रुपया शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 24 पैसे गिरकर 74.45 के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया है।

Rupee record low against Dollar
Rupee record low against Dollar
Rupee hits new record low 74.45

इसकी प्रमुख वजह आयातकों की तरफ से डॉलर की मांग बढ़ना और घरेलू शेयर बाजार का अचानक लुढ़कना है। विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 74.37 पर खुला और जल्दी ही लुढ़कर कर 74.45 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया। शुरूआती कारोबार में रुपया 24 पैसे लुढ़का है।

रिपोर्ट के मुताबिक, विदेशी मुद्रा कारोबारियों का कहना है कि आयातकों की तरफ से डॉलर की मांग बढ़ने, राजकोषीय घाटा बढ़ने के डर और पूंजी के बाहर जाने का रुपये पर दबाव पड़ा है। बता दें कि, बुधवार को रुपया 18 पैसे टूट कर डॉलर के मुकाबले 74.21 के स्तर पर बंद हुआ था।

More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: