India

रेप केस में फरार चल रहे दाती महाराज ने तोड़ी चुप्पी, पीड़िता को बताया बेटी, कहा- जांच में करूंगा सहयोग

Rape accused Daati Maharaj speak

Rape accused Daati Maharaj speak

Download Our Android App Online Hindi News

रेप के आरोप लगाने के बाद से फरार चल रहे मशहूर शनिधान मंदिर के संस्थापक और स्वयंभू संत दाती महाराज ने गुरुवार (14 जून) को पहली बार मीडिया के सामने आकर अपने ऊपर लगे आरोपों पर चुप्पी तोड़ी है।

जुड़ें हिंदी TRN से

मीडिया से बातचीत में दाती महाराज ने कहा कि जो भी आरोप लगे हैं वो आपके सामने हैं। उन्होंने कहा कि मैं उस बिटिया पर आरोप नहीं लगाऊंगा। वो मेरी बेटी है और मैंने गलती की है तो पुलिस जांच करेगी और जांच में सहयोग के लिए पूरी तरह से तैयार हूं।

ABP न्यूज से बातचीत में दाती महाराज ने कहा, ‘मुझे सचिन जैन ने पीड़िता के नाम पर बर्बाद करने की धमकी दी थी। पीड़िता साल 2008 में मेरे आश्रम में आई थी और मैंने उसे पहले बीसीए करवाया फिर जोधपुर में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए भेजा। इतना ही नहीं पीड़िता को अजमेर में मैंने एमसीए भी करवाने भेजा था।’ उन्होंने आगे कहा, ‘पीड़िता मेरी बेटी है और अप्रैल 2016 के बाद मेरा उससे या उसके परिवार से कोई संपर्क नहीं हुआ है। पीड़िता ने जिन तारीखों के बारे में लिखा है, उन तारीखों के बारे में मैं मेरा कार्यक्रम बनाने वाले लोगों से पूछूंगा।’

ये खबर भी पढ़ें  RSS-BJP इतिहास को तोड-मरोड़कर मुस्लिमों को दोयम दर्जे का नागरिक बनाना चाहती है- इतिहासकार

उधर, NDTV के मुताबिक यह मामला जिला पुलिस से अपराध शाखा को हस्तांतरित कर दिया गया। पुलिस के संयुक्त आयुक्त (अपराध) आलोक कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मामला अपराध शाखा को हस्तांतरित कर दिया गया है, हालांकि अभी उन्हें आधिकारिक आदेश नहीं मिले हैं। महिला ने पुलिस को बताया कि वह स्वयंभू बाबा की एक दशक से शिष्य रही है, लेकिन दाती महाराज और उनके दो शिष्यों के उसके साथ कथित रूप से बलात्कार किए जाने के बाद वह अपने गृह प्रदेश राजस्थान लौट गई।

ये खबर भी पढ़ें  क्रेडिट कार्ड क्लोन बनाने के बाद अब रेप केस मे बीजेपी नेता अरैस्ट
Rape accused Daati Maharaj speak

बता दें कि, राजस्थान की 25 वर्षीय युवती ने स्वयंभू बाबा दाती महाराज और उसके चेलों पर बलात्‍कार का आरोप लगाया था। यह मामला दक्षिणी दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में दर्ज कराया गया था। युवती ने पुलिस को बताया कि वह करीब एक दशक से महाराज की अनुयाई (भक्त) थी। लेकिन महाराज और चेलों द्वारा बार-बार बलात्कार किए जाने के बाद वह अपने घर राजस्थान लौट गई थी।

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, महिला ने आरोप लगाया कि बाबा के शिष्य उसको जबरन उसके कमरे में भेजते थे और यदि वह इंकार करती तो उसके अन्य शिष्य भी उसके साथ सोते थे। महिला ने आरोप लगाया कि स्वयंभू बाबा के दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों में उसका शारीरिक शोषण किया गया। दो साल पहले वह एक आश्रम से भागने में सफल रही और इसके बाद अवसाद में चली गई। बाद में उसने अपनी आप बीती अपने माता पिता को बताई जिसके बाद पुलिस में मामला दर्ज कराया गया।

ये खबर भी पढ़ें  हिन्दी की दशा की पड़ताल

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने महिला से मुलाकात की थी और उसे पुलिस संरक्षण मुहैया कराए जाने की मांग की थी। इसके साथ ही उन्होंने दाती महाराज को तत्काल गिरफ्तार किए जाने की भी मांग की थी। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक महिला की शिकायत के बाद दाती महाराज के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 376, 377, 354 और धारा 34 के तहत केस दर्ज हो गया है।

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top