कुरियन जोसेफ के सनसनीखेज दावे के बाद राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशान, बोले- ‘चौकीदार ने सुप्रीम कोर्ट के एक न्यायमूर्ति को कोर्ट-पुतली बना लिया था’

0
4
Rahul Gandhi targets PM Modi.jpg
Rahul Gandhi targets PM Modi.jpg

देश के इतिहास में पहली बार सूप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों द्वारा 12 जनवरी, 2018 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए न्यायपालिका को खतरे में बताया था। जस्टिस कुरियन जोसेफ भी उन 4 वरिष्ठ जजों में शामिल थे।

हाल ही में जस्टिस कुरियन जोसेफ ने रिटायर होने के कुछ दिनों बाद सोमवार को 12 जनवरी को की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर एक सनसनीखेज दावा किया। जोसेफ ने कहा कि ये प्रेस कॉन्फ्रेंस उन्हें इसलिए करनी पड़ी क्योंकि पूर्ववर्ती प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) दीपक मिश्रा किसी ‘‘बाहरी व्यक्ति’’ के प्रभाव में काम कर रहे थे।

29 नवम्बर को सेवानिवृत्त हो चुके जस्टिस जोसेफ ने पीटीआई से कहा, ‘‘तत्कालीन सीजेआई किसी बाहरी स्रोत के प्रभाव में काम कर रहे थे। वह किसी बाहरी स्रोत द्वारा रिमोट से नियंत्रित थे। किसी बाहरी स्रोत का कुछ प्रभाव था जो न्याय के प्रशासन को प्रभावित कर रहा था।’’

यह पूछे जाने पर कि वह किस आधार पर यह दावा कर रहे हैं, जस्टिस जोसेफ ने कहा कि यह उन न्यायाधीशों के बीच धारणा थी जो उच्चतम न्यायालय के समक्ष उत्पन्न मुद्दों को लेकर सार्वजनिक रूप से सामने आये।

इसी बीच, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रिटायर जस्टिस कुरियन जोसेफ द्वारा पूर्व CJI को लेकर दिए सनसनीखेज बयान के बाद पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि, ‘चौकीदार’ ने देश की सबसे बड़ी अदालत के एक न्यायमूर्ति को ‘कोर्ट-पुतली’ बना लिया था।

गांधी ने न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जोसेफ के बयान से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘चौकीदार ने उच्चतम न्यायालय के एक न्यायमूर्ति को कोर्ट-पुतली बना लिया था।’ उन्होंने कहा, ‘चौकीदार का दुर्भाग्य है कि देश में ईमानदार जजों की कमी नहीं है जिनके लिए सत्य हमेशा सत्ता से बड़ा होता है। वे सत्ता के दंभ को सत्य पर हावी होने नहीं देते। देश को ऐसे जजों पर गर्व है।’