Press "Enter" to skip to content

केंद्र सरकार और RBI के बीच टकराव की खबरों पर राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, बोले- आखिरकार बैंक को मोदी से बचा रहे हैं RBI गवर्नर

Rahul Gandhi on RBI vs Centre

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के बाद अब भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) में हस्तक्षेप को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सवालों के घेरे में आ गई है। दरअसल, केंद्र सरकार और आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल के बीच लगातार तनाव की स्थिति बन रही है। बताया जा रहा है कि, आरबीआई के काम में सरकार की दखलअंदाजी और नीतिगत मुद्दों को लेकर मतभेद है।

गौरतलब है कि, हाल ही में आरबीआई के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने बताया कि, सरकार आरबीआई के काम में दखल दे रही है जिससे बैंकों की स्वायत्तता पर असर पड़ रहा है, जोकि ठीक नहीं है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबित, साल 2018 के शुरुआत से ही सरकार और आरबीआई के बीच अच्छे संबंध नहीं रहे हैं। सरकार और आरबीआई के बीच संवादहीनता की स्थिति तक बनती जा रही है। आरबीआई के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य का कहना है कि आरबीआई की स्वायत्तता पर चोट किसी के हक में नहीं होगी।

दरअसल ब्याज दरों में कटौती न होने पर सरकार आरबीआई से नाराज़ चल रही है। नीरव मोदी के कारण भी बैंक और सरकार के बीच तनावपूर्ण माहौल बना हुआ है। ऐसा कहा जा रहा है कि करीब आधे दर्जन से अधिक मुद्दों पर बैंक और सरकार के बीच भारी मतभेद चल रहे हैं।

विरल के मुताबिक, ‘सरकार द्वारा आरबीआई के काम में दखल देने से बैंक की स्वायत्तता पर प्रभाव पड़ रहा है। अर्थव्यवस्था में सुधार लाने के लिए आरबीआई सरकार से थोड़ा दूरी बनाना चाहती है लेकिन सरकार बैंक के कामों में हस्तक्षेप कर रही है जोकि ठीक नहीं है।

साथ ही विरल ने ये भी कहा कि सरकारों की तरफ से लोन को माफ़ करना काफी ख़तरनाक है। इससे बैंकों को लम्बे वक़्त तक काफी नुकसान होगा। अगर सरकारें लोन माफ़ करती रहीं तो फिर ऐसे हालत में बैंकों के लिए काम करना मुश्किल होगा। आरबीआई गवर्नर चाहते हैं कि सरकारी बैंकों पर नज़र रखने के लिए आरबीआई को और शक्तिशाली बनाना चाहिए।

गौरतलब है कि, सीबीआई में मचे घमासान के बीच हस्तक्षेप को लेकर मोदी सरकार पहले ही विपक्ष के निशाने पर आ गई है। इसी बीच आरबीआई और सरकार के तनाव की खबरों पर अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

जनता का रिपोर्टर कि खबर के मुताबिक, राहुल गांधी ने सोमवार (29 अक्टूबर) को कहा कि यह देखना सुखद है कि आखिरकार भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल केंद्रीय बैंक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को संस्थाओं पर कब्जा नहीं करने देगा।

उर्जित पटेल और मोदी सरकार के बीच टकराव की खबरों के बाद राहुल गांधी ने कहा कि गवर्नर के आरबीआई के बचाव में आने में कोई विशेष देरी नहीं हुई है। कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘यह अच्छा है कि आखिरकार पटेल आरबीआई को ‘मिस्टर 56’ से बचा रहे हैं। कभी नहीं से विलंब बेहतर। भारत बीजेपी-आरएसएस को हमारी संस्थाओं पर कब्जा नहीं करने देगा।’

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: