Press "Enter" to skip to content

RTI के तहत पूछा, PM मोदी के काफिले में गाड़ियों की संख्या कितनी होती है? PMO ने जवाब देने से किया इंकार

PMO refuses give PM modi’s convoy vehicles details

देश के प्रधानमंत्री के बारे में जानना हर कोई चाहता है। जनता जानना चाहती है कि पीएम मोदी का राजनीतिक जीवन कैसा होता है। पीएम का जब काफिला निकलता है तो उसमें किन बातों का ख्याल रखा जाता है? काफिले में कितनी गाड़ियां होती है?

इन सब बातों की जानकारी देना प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ज़िम्मेदारी होती है, लेकिन जब पीएमओ ही यह जानकारी देने से इनकार कर दे तो फिर जनता इन सब के बारे में कैसे जान पाएगी?

दरअसल, सूचना का अधिकार (आरटीआई) के तहत प्रधानमंत्री के काफिले में गाड़ीयों की संख्या के संबंध में मांगी गई जानकारी की सूचना देने से प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने इंकार कर दिया है।

PMO refuses give PM modi’s convoy vehicles details

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, लखनऊ की आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के काफिले के साथ सम्बद्ध वाहन के संबंध आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी।

उन्होंने इस सूचना के साथ इन वाहनों के प्रकार, क्रय का वर्ष तथा मूल्य, प्रधानमंत्री के साथ सुरक्षा में लगे वाहनों की संख्या एवं उसके मूल्य तथा इन वाहनों पर वर्ष 2017, 2016, 2015 तथा 2014 में खर्च हुए ईंधन की सूचना मांगी थी।

पीएमओ के जन सूचना अधिकारी प्रवीण कुमार ने यह कहते हुए सूचना देने से मना कर दिया कि यह मामला स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) से जुड़ा है जो आरटीआई एक्ट की धारा 24 में निषिद्ध है।

इसके विपरीत उपराष्ट्रपति सचिवालय द्वारा समान प्रकार की सूचना देते हुए बताया गया था कि उपराष्ट्रपति कार्यालय के पास कुल 9 वाहन हैं। उन्होंने इन वाहनों के मूल्य तथा पिछले 4 वर्षो में ईंधन के उपयोग की भी सूचना दी थी।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: