Murli Manohar Joshi targets PM Modi
Murli Manohar Joshi targets PM Modi

Murli Manohar Joshi targets PM Modi

काफी समय से बिमार चल रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को 11 जून की शाम एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है। एम्स ने बयान जारी करते हुए कहा है कि उनकी हालत स्थिर है, लेकिन अभी इलाज चल रहा है और अभी उन्हें अस्पताल में ही रखा जाएगा।

इसी बीच मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता और मार्गदर्शक मंडल के सदस्य मुरली मनोहर जोशी ने एम्स में वाजपेयी से मुलाक़ात के बाद मीडिया से बात करते हुए इशारों में मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

लंबे समय तक अटल बिहारी वाजपेयी के साथ काम करने वाले जोशी ने कहा है कि आज राजनीति के जो हालात हैं, उसको देखते हुए शायद कुदरत ने वाजपेयी को चुप करा दिया है, क्योंकि आज की राजनीतिक परिस्थिति को देखते तो वो क्या कहते?

ये खबर भी पढ़ें  इतिहासकार इरफान हबीब बोले ‘आजकल भारत में जो हो रहा है, वह ढर्रा पाकिस्तान का है’

वहीं, बोलता यूपी.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, बता दें कि, गुजरात दंगों के बाद 4 अप्रैल, 2002 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अहमदाबाद पहुंचे थे। इस दौरान प्रेस कॉंफ्रेंस में अटल जी ने गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘राजधर्म’ के पालन का संदेश दिया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, वाजपेयी ने कहा था कि मुख्यमंत्री (नरेंद्र मोदी) के लिए मेरा एक ही संदेश है कि ”वो राजधर्म का पालन करें। ”राजधर्म” ये शब्द काफी सार्थक है। मैं उसी का पालन करने का प्रयास कर रहा हूं। राजा के लिए, शासक के लिए प्रजा-प्रजा में भेद नहीं हो सकता। न जन्म के आधार पर, न जाति के आधार पर, न सम्प्रदाय के आधार पर…”

ये खबर भी पढ़ें  ABVP की हिंसा के बाद कन्हैया ने RSS को कही ये बात जो किसी नेता में बोलने की हिम्मत नहीं!!

वाजपेयी ने इतना कहा ही था कि मोदी उनकी तरफ मुड़े, नजरें मिलाने की कोशिश की और लगभग धमकाने वाले अंदाज में कहा, ”हम भी वही कर रहे हैं, साहिब।” वाजपेयी ने मौके की नजाकत को समझा और कहा, ‘मुझे पूरा विश्‍वास है कि नरेंद्रभाई भी वही कर रहे हैं।’

Murli Manohar Joshi targets PM Modi

गौरतलब है कि ये पहला मौका नहीं है जब जोशी ने मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। बीते माह मुरली मनोहर जोशी ने मोदी सरकार के चार साल के कामकाज को शून्य बताया था। मध्य प्रदेश के इंदौर में एक कार्यक्रम में पत्रिका से बातचीत में मोदी सरकार के कामकाज को लेकर ये कड़ी टिप्पणी की।

ये खबर भी पढ़ें  राफ़ेल डील को लेकर घिरी मोदी सरकार, संजय सिंह ने पूछा- तीन महीने पुरानी रिलायंस कम्पनी को हज़ारों करोड़ का ठेका कैसे मिल गया?

जोशी से सवाल पूछा गया था कि वो मोदी सरकार के चार साल के कामकाज को कितने नंबर देंगे। इस पर जोशी ने कहा कि नंबर तो परीक्षक तब देगा, जब कॉपी में कुछ लिखा हो, यहां तो कॉपी ही खाली है। ऐसे में नंबर कैसे और कितने दूं।