मोदी सरकार ने 1 लाख से ज्यादा सैन्यकर्मियों को ज्यादा MSP देने की मांग को किया खारिज, राहुल बोले- ‘प्रधानमंत्री को जवानों की नहीं, सूटबूट वालों की दुकानों की फिक्र है’

0
12
Modi Govt rejects higher military service pay
Modi Govt rejects higher military service pay

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार को पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का ‘जय जवान जय किसान’ का नारा याद नहीं तभी तो आज देश में किसान और जवान दोनों ही अपनी मांगो को लेकर परेशान है, लेकिन सरकार इनकी मांगों को सुनने के बजाए साफ तौर से मानने से ही इंकार कर रही है।

गौरतलब है कि एक तरफ देशभर के किसान लगातार अपनी फसलों के सही दाम और कर्ज माफी की मांगों को लेकर किए जा रहे प्रदर्शन के बाद भी सरकार पर उसका कोई असर नहीं पढ़ रहा है। दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने सशस्त्र बलों के एक लाख से अधिक जवानों को ज्यादा सैन्य सेवा वेतन (एमएसपी) दिए जाने की मांग को खारिज कर दिया है। जिसके बाद सैन्‍यकर्मियों में भारी नाराजगी है।

जी हाँ, न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, केंद्र की मोदी सरकार ने सेना के करीब 1.12 लाख जवानों की एक अहम मांग को मानने से इनकार कर दिया है। इस वजह से सैन्‍यकर्मियों में नाराजगी है। दरअसल, वित्‍त मंत्रालय ने सैनिकों की मिलिट्री सर्विस पे (MSP)दिए जाने की बहुप्रतीक्षित मांग खारिज कर दी है।

वित्त मंत्रालय के इस फैसले से थलसेना में नाराजगी है। थलसेना इस मामले की तुरंत समीक्षा की मांग करेगी। वहीं रक्षा मंत्रालय भी इस फैसले से क्षुब्ध बताया जा रहा है। सरकार के इस फैसले से 87,646 जूनियर कमीशंड अफसर (जेसीओ) के अलावा नौसेना और वायुसेना में समकक्ष 25,434 कर्मियों सहित करीब 1.12 लाख सैन्यकर्मी इस फैसले से प्रभावित होंगे।

पीटीआई के मुताबिक मासिक एमएसपी 5,500 रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये करने की मांग थी। यदि सरकार ने मांग मान ली होती तो उसे हर साल 610 करोड़ रुपये खर्च करने पड़ते।

इसी बीच, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सशस्त्र बलों के एक लाख से अधिक जवानों को ज्यादा सैन्य सेवा वेतन (एमएसपी) दिए जाने की मांग को सरकार द्वारा खारिज करने को लेकर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि उन्हें सर्जिकल स्ट्राइक करने वाले जवानों की नहीं, बल्कि ‘सूटबूट वालों की दुकानों’ की फिक्र है।

राहुल गांधी ने बुधवार (5 दिसंबर) को एक खबर शेयर करते हुए फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘मोदी जी, जिन्होंने देश के लिए सर्जिकल स्ट्राइक किया, उनके लिए आपका ये बर्ताव है?’’ साथ ही उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘आपको (मोदी) ना किसान की फ़िक्र है, ना जवान की, आपको फ़िक्र है सिर्फ़ अनिल अंबानी जैसे सूट-बूट वालों की दुकान की। आपको देश ने मौक़ा दिया। आपने देश को धोखा दिया।’’