India

कठुआ गैंगरेप केस: CM महबूबा मुफ्ती ने हाईकोर्ट से फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का किया अनुरोध, आरोपी पुलिसवालों को किया बर्खास्त

Mehbooba Mufti seeks fast track court

Mehbooba Mufti seeks fast track court

Download Our Android App Online Hindi News

जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कठुआ में  8 वर्षीय बच्ची से बलात्कार और हत्या के मामले की सुनवाई के लिए आज जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिख कर ‘फास्ट ट्रैक’ कोर्ट गठित करने का अनुरोध किया है।

जुड़ें हिंदी TRN से

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस मामले में मुख्य न्यायाधीश से फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने का अनुरोध किया। उन्होंने बताया कि यह अदालत 90 दिनों में मामले की सुनवाई पूरी कर लेगी और राज्य में यह इस तरह की पहली अदालत होगी। उन्होंने सांप्रदायिक ताकतों को खारिज करने के लिए जम्मू के लोगों की सराहना भी की।

ये खबर भी पढ़ें  राहुल गांधी ने PM मोदी से पूछा चौथा सवाल, जानिए क्या कहा?

वहीं मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शनिवार (14 अप्रैल) को बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या किए जाने के मामले में आरोपी चार पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया है। बता दें कि महबूबा के पास गृह मंत्रालय का प्रभार भी है। समाचार एजेंसी IANS को सूत्रों ने बताया है कि राज्य सरकार ने मामले में आरोपी एक उप निरीक्षक, एक हवलदार और दो विशेष पुलिस अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के मुताबिक, कठुआ गैंगरेप-हत्या मामले में हेड कांस्टेबल, एक सब-इंस्पेक्टर, दो विशेष पुलिस अधिकारी सहितआठ लोग गिरफ्तार किए गए और उनमें से सात के खिलाफ आरोप दायर किया गया है। इस मामले के विरोध में हुई रैली में शामिल होने के बाद बीजेपी के दो मंत्रियों चौधरी लाल सिंह और चंदर प्रकाश गंगा ने पद से इस्तीफा दे दिया।

ये खबर भी पढ़ें  चश्मदीद: गोधरा कांड के दिन ही मैं ट्रेन से गुजरात जा रहा था

Mehbooba Mufti seeks fast track court

 परिवार की मांग- दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी हो!

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, कठुआ जिले के बहुचर्चित बलात्कार और हत्याकांड की आठ वर्षीय पीड़िता के परिवार की मांग है कि दोषियों को फांसी की सजा दी जाए। पीड़िता की मां ने कहा, ‘वह बहुत खूबसूरत और समझदार थी। मैं चाहती थी कि वह बड़ी होकर डॉक्टर बने।’ शोक में डूबी पीड़िता की मां ने दोषियों के लिए मौत की सजा की मांग की। उन्होंने कहा, ‘मेरी एक ही इच्छा है कि दोषियों को इस जघन्य अपराध के लिए फांसी दी जाए, ताकि किसी और परिवार को इससे गुजरना नहीं पड़े।’

ये खबर भी पढ़ें  बीजेपी विधायक के सांत्वना देने पहुंचने पर लोगों ने भगाया, देखे विडियो!

कठुआ जिले के रसाना गांव में पीड़िता के मामा-मामी ने उसे तब गोद लिया था जब वह एक साल की थी। अब भी सदमे में नजर आ रही पीड़िता की मां ने अपनी बच्ची को अपने भाई के घर छोड़ने के लिए खुद को कोसा। उन्होंने कहा, ‘उसे मारा क्यों गया? वह तो मवेशियों को चरा रही थी और घोड़ों की देखभाल कर रही थी। वह आठ साल की थी। उन्होंने इतने बुरे तरीके से उसे क्यों मारा?

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top