India

मदरसों से आतंकी नहीं, बल्कि पूर्व राष्ट्रपति कलाम जैसी शख्सियत निकलती है- महंत राम दास

Mahant condemns Waseem Rizvi statement

Mahant condemns Waseem Rizvi statement

Download Our Android App Online Hindi News

सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी द्वारा मदरसों पर दिए बयान को लेकर चारों तरफ कड़ी आलोचना की जा रही है। देश भर में न सिर्फ शिया और सुन्नी उलेमाओं ने रिजवी के बयान की निंदा की, बल्कि दुसरे धर्म के लोग भी वसीम रिज़वी के बयान पर नाराजगी जता रहे हैं।

जुड़ें हिंदी TRN से

खबर के मुताबिक, हनुमानगढ़ी के महंत राम दास ने सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के बयानों की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि वसीम रिजवी को मदरसों पर इस तरह के बयान नहीं देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मदरसे में भी अच्छी तालीम होती है।

ये खबर भी पढ़ें  इस विडियो में रवीश कुमार ने मोदी के साथ भक्तों को भी लपेटकर मारा

रिजवी द्वारा मदरसों को आतंक से जोड़े जाने पर महंत ने कहा कि मदरसों से आतंकी नहीं, बल्कि अच्छे अधिकारी अच्छे इंजीनियर और नेता निकल चुके हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने भी वहीं तालीम ली।

वहीं, मौलाना समीर हैदर ने रिजवी पर निशाना साधते हुए कहा कि लगता है वसीम रिजवी ने मदरसे से तालीम नहीं हासिल की है। उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी मदरसा जाकर तालीम का जायजा लें, फिर इस तरह का बयान दें। मौलाना ने कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए वसीम रिजवी इस तरह का वक्तव्य दे रहे हैं, जो कि निंदनीय है।

ये खबर भी पढ़ें  छतीसगढ़: नक्सलियों हमले में 25 सीआरपीएफ़ जवानों की मौत, 6 घायल

आपको बता दें कि रिजवी ने मदरसों को बंद करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि मदरसों से आतंकवादी बन कर निकल रहे है।

रिजवी ने पत्र में लिखा कि कितने मदरसों ने डॉक्टर, इंजीनियर और आईएएस अफसर बना रहे हैं, लेकिन कुछ मदरसे ऐसे हैं जहां बच्चों को मुख्यधारा से भ्रष्ट कर के आतंकवादी जरुर बना रहे हैं।

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top