Press "Enter" to skip to content

मुझे हिंदू विरोधी बताकर बदनाम करने की साजिश कर रही है BJP – कन्हैया कुमार

Kanhaiya Kumar targets BJP

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार अगले साल बिहार की बेगूसराय सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने वाले हैं। इसी के मद्देनजर वे राज्य में कैंप कर रहे हैं। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से लोकसभा उम्मीदवार बनाए जाने की हरी झंडी मिलने के बाद कन्हैया पूरी तरह चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं।

कन्हैया कुमार अपना पूरा फोकस बेगूसराय पर दे रहे हैं। कबड्डी प्रतियोगिताओं से लेकर राजनीतिक जनसभाओं में उन्हें देखा जा सकता है, लेकिन बिहार में भी विवादों से उनका नाता टूटता नहीं दिखाई दे रहा।

दरअसल, हाल ही में कन्हैया कुमार के खिलाफ 2 एफ़आईआर दर्ज की गई, उनके काफिले पर जोरदार हमला किया गया। इतना ही नहीं, इससे पहले पटना के एम्स के डॉक्टरों के साथ बदसूलूकी के आरोप भी उनपर लगे।

Kanhaiya Kumar
Kanhaiya Kumar

इसी बीच न्यूज 18 को दिए इंटरव्यू में कन्हैया कुमार इन सभी बातों का जवाब देते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर उन्हे हिंदू विरोधी बताकर बदनाम करने का आरोप लगाया है।

न्यूज 18 से खास बातचीत में उन्होने हाल ही में अपने ऊपर हुए हमले के बारे में बताया और कहा कि हम मंसूरचक से सभा करके लौट रहे थे। भगवानपुर थाने के दहिया गांव में मेरे काफिले पर हमला किया गया।

वो भारतीय जनता युवा मोर्चा और बजरंग दल के कार्यकर्ता थे। उनकी तस्वीरें सुशील मोदी के साथ है। उन्हें स्थानीय भाजपा एमएलसी रजनीश का संरक्षण प्राफ्त है। इनकी मंशा ही नुकसान पहुंचाने की थी।

Kanhaiya Kumar targets BJP

उन्होने कहा कि ये भाजयुमो और बजरंग दल का सुनियोजित राजनीतिक हमला है ताकि मेरा चरित्र खराब किया जाए। यहां का माहौल खराब किया जाए। धार्मिक भक्ति भाव का माहौल है तो ये कैसे खराब किया जाए और मुझे हिंदू विरोधी बताया जाए।

जिसकी पिटाई हुई वो कोई गैर राजनीतिक व्यक्ति नहीं है। वो भाजयुमो का आदमी है। रॉड था, डंडा था, पचास आदमी थे तो किसी एक ही आदमी का सिर फूटेगा। अगर ये सच्चाई होती तो 40-50 आदमी के सिर फूटते।

न्यूज 18 से बातचीत के दौरान जब कन्हैया से पूछा गया कि आप कैसे दावा कर सकते हैं कि भाजयुमो और बजरंग दल के लोग वहां साजिश के तहत जमे थे? स्थानीय लोग तो आप पर उंगली उठा रहे हैं?

इसी के जवाब में कन्हैया कुमार ने कहा, स्थानीय लोगों में कोई चर्चा नहीं है. भाजपा के कट्टर समर्थकों ने हवा बनाने की कोशिश की है। हम भी तो इसी इलाके के हैं। हम जानते हैं. ये गांव जो है दहिया उसका इतिहास जान लीजिए।

यहां के दो चार परिवार पुराने समय से आरएसएस से जुड़े हुए हैं। भगवानपुर चौक इकलौती ऐसी जगह है बेगूसराय में जहां बजरंग दल या भाजपा का गढ़ है। अगर हमने बदमाशी की तो वहां के प्रखंड की गाड़ी क्यों तोड़ दी। ये राजनीतिक हमला है। पांच मिनट के भीतर तमाम भाजपा नेता वहां कैसे पहुंच जाते हैं। मतलब ये लोग कहीं पीछे बैठे हुए थे।

वहीं, पटना एम्स के डॉक्टरों के साथ बदसलूकी के आरोप पर कन्हैया ने कहा- मान लीजिए हम गए हैं किसी से मिलने के लिए। एम्स में गार्ड होगा, सीसीटीवी होगा। अगर हम सौ लोग घुसें हैं डंडा लेकर तो कोई फुटेज होगा न।

हॉस्पिटल में तो कोई भी इंजुरी रिपोर्ट बना सकता है लेकिन वो कहां है। आप एम्स पटना का ऑफिसियल फेसबुक पेज देखिए। उसमें लिखा है एंटी नेशनल कन्हैया कुमार. ये पॉलिटिकली मोटिवेटेड मामला है। भाजपाई डॉक्टरों ने किया है।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: