Press "Enter" to skip to content

गुजरात हिंसा के बाद यूपी-बिहार वालों का पलायन जारी, राहुल गांधी ने की उत्तर भारतीयों पर हमलों की कड़ी निंदा, अब तक 431 गिरफ्तार

Gujarat violence against migrant workers

बीजेपी शासित गुजरात के कई हिस्सों में उत्तर भारतीयों खिलाफ हिंसा की खबर सामने आ रही है। इनमें खास तौर पर यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश के लोग शामिल हैं।

खबर के मुताबिक, 28 सितंबर को गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 माह की बच्ची से बलात्कार घिनौनी वारदात के सामने आने के बाद से राज्य के स्थानीय लोगों द्वारा पिछले एक हफ्ते से गैर गुजराती मजदूरों को निशाना बनाया जा रहा रहा है। लोगों के आक्रोश को देखते हुए यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश राज्यों के हजारों मजदूर परिवार वहां से पलायन करने को मजबूर हैं।

वहीं, द वायर की रिपोर्ट के मुताबिक, गैर-गुजरातियों पर कथित तौर पर हमला करने के मामलों में गुजरात के विभिन्न भागों से पुलिस ने अब तक 431 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस घटना के बाद राज्य के कई हिस्सों में गैर- गुजरातियों, खासतौर पर उत्तर प्रदेश और बिहार के रहने वाले लोगों को निशाना बनाया जा रहा है।

पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने बताया, ‘मुख्य रूप से छह जिले (हिंसा से) प्रभावित हुए हैं. मेहसाणा और साबरकांठा सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं। इन जिलों में, 42 मामलें दर्ज किये गये हैं. जांच के दौरान आरोपियों के नाम सामने आने के बाद और लोगों को गिरफ्तार किया जायेगा।’

उन्होंने बताया कि प्रभावित क्षेत्रों में राज्य रिजर्व पुलिस (सीआरपी) की 17 कंपनियों को तैनात किया गया है।साथ ही उन्होंने कहा, ‘गैर-गुजराती के निवास क्षेत्रों और उन कारखानों में जहां वे काम करते हैं, वहां सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पुलिस ने इन इलाकों में गश्त भी बढ़ा दी है।’

Gujarat violence against migrant workers

गुजरात छोड़ चुके लोगों से CM विजय रूपाणी ने की लौटने की अपील

वहीं, हमलों के बाद गुजरात से बाहर जा रहे लोगों से राज्य सरकार ने सोमवार को उनसे लौटने की अपील की। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लोगों से हिंसा में शामिल नहीं होने की अपील की।

रूपाणी ने दावा किया कि पिछले 48 घंटों में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने स्थिति पर काबू पा लिया है। उन्होंने कहा कि पुलिस के गहन प्रयासों के कारण स्थिति नियंत्रण में है औैर पिछले 48 घंटों में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है।

समचाार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सीएम रूपाणी ने राजकोट में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं और परेशानी की स्थिति में लोग पुलिस को बुला सकते हैं। हम उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएंगे।’’

उत्तर भारतीयों के खिलाफ हो रही हिंसा की राहुल गांधी की निंदा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में उत्तर भारतीय लोगों पर हमले को ‘पूर्णत: गलत’ करार दिया और सोमवार को कहा कि हिंसा के मूल में राज्य में बंद पड़े कारखाने और बेरोजगारी है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा, “ग़रीबी से बड़ी कोई दहशत नहीं है। गुजरात में हो रहे हिंसा की जड़ वहां के बंद पड़े कारख़ाने और बेरोज़गारी है। व्यवस्था और अर्थव्यवस्था दोनो चरमरा रही हैं।” उन्होंने कहा, “प्रवासी श्रमिकों को इसका निशाना बनाना पूर्णत ग़लत है। मैं पूरी तरह से इसके ख़िलाफ़ खड़ा रहूंगा।”

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: