Press "Enter" to skip to content

BJP शासित गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले, संजय निरुपम बोले- ‘एक दिन PM को भी वोट मांगने वाराणसी जाना है, यह याद रखना’

Gujarat north Indians attack

भारतीय जनता पार्टी (BJP) शासित गुजरात के कई हिस्सों से उत्तर भारतीयों पर लगातार हमलों की खबर सामने आ रही है। पुलिस के मुताबिक, हिंसा के शिकार लोगों में खास तौर पर उत्तर प्रदेश, बिहार एवं मध्य प्रदेश के रहने वाले शामिल हैं।

gujarat north indians attack
Gujarat north indians attack

खबर के मुताबिक, गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 माह की बच्ची से बलात्कार की घटना के बाद गुजरात के स्थानीय लोग गैर-गुजरातियों खासकर यूपी, बिहार आए मजदूरों को निशाना बना रहे हैं। लोगों के आक्रोश को देखते हुए इन राज्यों के हजारों मजदूर परिवार वहां से पलायन करने को मजबूर हैं।

1
Gujarat north indians attack

वहीं, गुजरात में उत्तर भारतीयों के खिलाफ हो रही हिंसा से राजनीति गरमा गई है। पीएम मोदी के गृह राज्य गुजरात में यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों पर हमले को लेकर कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने कहा कि पीएम को यह नहीं भूलना चाहिए कि कल को उन्हें वोट मांगने के लिए वाराणसी ही जाना है। बता दें कि पीएम वाराणसी सीट से सांसद हैं।

संजय निरूपम ने कहा, “पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को मार-मार के भगाया जाएगा तो एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है, ये याद रखना. वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और पीएम बनाया था।”

Gujarat north Indians attack

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, गुजरात के साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर गाभांई में 14 महीने की मासूम के साथ घिनौनी वारदात के सामने आने के बाद गैर गुजरातियों पर लगातार हमले हो रहे हैं।

दरअसल, 28 सितंबर को साबरकांठा जिले में 14 माह की एक बच्ची से बलात्कार की घटना सामने आई थी। इस मामले में बिहार के रहने वाले रविंद्र साहू नाम के एक मजदूर को घटना वाले दिन ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

इस गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर गैर गुजरातियों- खासकर बिहार, मध्य प्रदेश एवं उत्तर प्रदेश के मजदूरों के खिलाफ कई तरह के संदेश प्रकाशित और प्रसारित हुए जिसके बाद राज्य में गैर गुजरातियों पर हमले होने शुरू हो गए।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गुजरात में रविवार को भी दो जगहों पर हमले की ख़बर सामने आई थी। गुजरात के डीजीपी शिवानंद झा के मुताबिक अब तक इस मामले में कुल 42 केस दर्ज किए गए हैं, इसके अलावा 342 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: