Press "Enter" to skip to content

पिछले 111 दिनों से गंगा सफाई की मांग को लेकर अनशन पर बैठ ‘जीडी अग्रवाल’ का निधन, कांग्रेस ने मोदी पर बोला जोरदार हमला

Ganga Activist G D agarwal died

पिछले 111 दिनों से गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाने की मांग को लेकर अनशन पर बैठे वयोवृद्ध पर्यावरणविद एवं वैज्ञानिक प्रो. जीडी अग्रवाल (स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद) का गुरुवार (11 अक्टूबर) दोपहर को निधन हो गया। उन्होंने गंगा नदी को अविरल बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तीन बार पत्र लिखे थे।

जीडी अग्रवाल अपने पत्रों मेन बार-बार प्रधानमंत्री को याद दिलाते रहे कि गंगा नदी को जल्द से जल्द साफ करना कितना जरूरी है, लेकिन पीएम ने एक बार भी उनके पत्र का जवाब नहीं दिया।

Gd-Agrawal
Gd-Agrawal

द वायर की रिपोर्ट के मुताबिक, पहला पत्र उन्होंने उत्तरकाशी से 24 फरवरी 2018 को लिखा था, जिसमें वे गंगा की बिगड़ती स्थिति के साथ प्रधानमंत्री को साल 2014 में किए गए उनके उस वादे की याद दिलाते हैं जब बनारस में उन्होंने कहा था कि ‘मुझे मां गंगा ने बुलाया है।’

Narendra-Modi-Prayers-at-Ganga
Narendra-Modi-Prayers-at-Ganga

 

इसके बाद दूसरा पत्र उन्होंने हरिद्वार के कनखाल से 13 जून 2018 को लिखा। इसमें जीडी अग्रवाल ने प्रधानमंत्री को याद दिलाया कि उनके पिछले खत का कोई जवाब नहीं मिला है। अग्रवाल ने इस पत्र में भी गंगा सफाई की मांगों को दोहराया और जल्द प्रतिक्रिया देने की गुजारिश की।

Ganga
Ganga
Ganga Activist G D agarwal died

हालांकि इस पत्र का भी उनके पास कोई जवाब नहीं आया. इस बीच उनकी मुलाकात केंद्रीय मंत्री उमा भारती से हुई और उन्होंने फोन पर नितिन गडकरी से बात की थी। कोई भी समाधान नहीं निकलता देख उन्होंने एक बार फिर पांच अगस्त 2018 को नरेंद्र मोदी को तीसरा पत्र लिखा।

vicharkhabar-ganga
vicharkhabar-ganga

सोशल मीडिया भड़का लोगों का गुस्सा

वयोवृद्ध पर्यावरणविद एवं वैज्ञानिक प्रो. जीडी अग्रवाल (स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद) के निधन पर सोशल मीडिया पर लोग नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं। देखिए, लोगों की प्रतिक्रियाएं:-

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: