Fake voter IDs row
Fake voter IDs row

Fake voter IDs row

कर्नाटक में 12 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राजधानी बेंगलुरु के एक अपार्टमेंट से हजारों ‘फर्जी’ वोटर आईडी कार्ड मिलने से हड़कंप मच गया है। घटना 8 मई यानी मंगलवार शाम की है। बेंगलुरु के जलाहाल्ली इलाके में एक घर से बेंगलुरु पुलिस और चुनाव आयोग ने 9746 वोटर आईडी कार्ड बरामद किए।

वहीं, अब इस मामले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने-सामने आ गई हैं। कांग्रेस ने बुधवार(9 मई) को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से इस्तीफे की मांग की है।

मीडिया रिपोर्टर के हवाले से जनता का रिपोर्टर में छपी खबर के मुताबिक, कांग्रेस का दावा है कि जिस फ्लैट में वोटर आईडी कार्ड मिले हैं उसकी मालकिन मंजुला अंजामरी बीजेपी की पूर्व निगम पार्षद हैं और उन्होंने अपने गोद लिए बेटे राकेश को इसे किराए पर दे रखा है।

बता दें कि, कर्नाटक के राजा राजेश्वरी विधानसभा क्षेत्र के एक फ्लैट से ‘फर्जी’ वोटर आईडी मिलने के बाद बीजेपी ने इस क्षेत्र में चुनाव को रद्द करने के लिए चुनाव आयोग से आग्रह किया है।

ये खबर भी पढ़ें  BRD अस्पताल के डॉ काफिल ने लिखा- "मेरी सजा इतनी है कि मैंने उन मासूमों को बजाया जो लड़पकर मर रहे थे"

प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, बीजेपी हजारों ‘फर्जी’ वोटर आईडी और हार्ड मुद्रा के खाली पैकेट के खुलासे के बाद इस सीट पर चुनाव रद्द कराने की भी मांग की है। साथ ही उन्होंने कहा कि, कांग्रेस की साजिश उनकी आगामी हार के मुकाबले चुनाव जीतने की साजिश है। बता दें कि, कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए जावड़ेकर बीजेपी प्रभारी भी हैं।

ख़बरों के मुताबिक, कांग्रेस के आरोपों पर बीजेपी ने जवाब देते हुए कहा कि मंजुला अंजामरी का पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि, ‘मंजुला अंजामरी का बीजेपी से कुछ लेना देना नहीं है। वह छह साल पहले ही बीजेपी छोड़ चुकी हैं। मंजुला अब कांग्रेस सदस्य हैं। वे बिना सबूत बीजेपी पर आरोप लगा रहे हैं। हमारे पास कई चीजों का सबूत है और हम चुनाव आयोग के समक्ष उसे पेश करेंगे।’

ये खबर भी पढ़ें  JKR Impact: PM मोदी पर राहुल गांधी का तंज, कहा- ‘अच्छा है सवाल-जवाब पहले से तय होते हैं वरना शर्मिंदगी की स्थिति पैदा हो जाती’

Fake voter IDs row

वहीं, दूसरी ओर बुधवार को पूर्व बीजेपी काउंसिलर श्रीधर के बेटे ने टाइम्स नाउ को बताया कि जावड़ेकर का यह आरोप गलत है कि, उनकी मां कभी कांग्रेस सदस्य थीं। उन्होंने कहा कि उनकी मां मंजुला अभी भी बीजेपी सदस्य है और वह कभी भी कांग्रेस में शामिल नहीं हुई। साथ ही श्रीधर ने कहा कि, “वह अस्वस्थ होने के कारण बीजेपी उम्मीदवार के लिए प्रचार नहीं कर रही हैं।

श्रीधर के चचेरे भाई राकेश ने आरोप लगाया था कि मंजुला ने बीजेपी छोड़ दी थी और इस इस विधानसभा चुनावों में कांग्रेस उम्मीदवार के लिए प्रचार कर रही है।

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, वहीं, कांग्रेस ने जावड़ेकर के झूठ बोलने के लिए उनके इस्तीफे की मांगी की है। कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, प्रिय श्री, प्रकाश जावड़ेकर आपको नही लगता है कि,आपको औपचारिक रूप से झूठ बोलने के लिए अपना इस्तीफा देना चाहिए? बता दें कि, ‘फर्जी’ वोटर आईडी का मामला सामने आने के बाद मंगलवार को चुनाव आयोग ने कहा था कि वह इस मामले पर प्राथमिकी दर्ज करेगा और जांच के बाद कार्रवाई करेगा।

ये खबर भी पढ़ें  सीता को ‘टेस्ट ट्यूब बेबी’ बताने पर यूपी के डिप्टी CM दिनेश शर्मा के खिलाफ केस दर्ज, अमित शाह को भी बनाया सह-आरोपी

गौरतलब है कि, बीजेपी और कांग्रेस के बीच कर्नाटक चुनावों के मद्देनजर आरोप-प्रत्यारोप का दौर कुछ ज्यादा ही तेज हो गया है। जहां कांग्रेस के सामने सत्ता बचाने की चुनौती है, वहीं बीजेपी कर्नाटक में एक बार फिर से सरकार बनाने की जुगत में लगी हुई है। बता दें कि, कर्नाटक में महज पांच दिन बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। कर्नाटक में विधानसभा की 224 सीटों पर एक चरण में 12 मई को मतदान होगा। वहीं, वोटों की गिनती 15 मई को की जाएगी।