राजस्थान में हाइवे पर लावारिस पड़ी मिली सीलबंद EVM, संजय सिंह बोले- 2014 से पहले ईवीएम में खामियां बताने वाली बीजेपी अब EVM के गुणगान में क्यों व्यस्त है?

0
29
EVM tampering in assembly elections 2018
EVM tampering in assembly elections 2018

केंद्र में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार सत्ता में आने के बाद से ही इलेक्ट्रॉकनिक वोटिंग मशीन काफी ज्यादा सुर्ख़ियों में रहने लगी है। पिछले कुछ सालों से देखने में आ रहा है कि हर चुनाव के बाद इवीएम की सुरक्षा और गोपनीयता को लेकर सवाल उठ रहे हैं।

लेकिन सत्तारूढ़ भाजपा सरकार को ईवीएम में कोई खराबी नज़र नहीं आ रही है। जबकि सत्ता में आने से पहले यही बीजेपी ईवीएम पर सवाल उठाया करती थी।  गौरतलब है कि, हाल ही में पाँच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भी कई जगहों से ईवीएम गड़बड़ी की खबर सामने आई है। ऐसे में विपक्ष लगातार भाजपा सरकार पर हमलावर है।

बीजेपी प्रत्याशी ज्ञानचंद पारीख के घर के पास से मिली EVM मशीन

बता दें कि, राजस्थान चुनाव के दौरान बीजेपी उम्मीदवार के घर में कथित तौर पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन रखे होने वाला विडियो वायरल हो गया है। जिसमें दावा किया जा रहा है कि राजस्थान मे बीजेपी के एक उम्मीदवार के घर में कथित तौर पर ईवीएम मशीन पाया गया।

इस वीडियो को आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अंकित लाल ने भी अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। इस वीडियो को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई अन्य नेताओं ने रिट्वीट भी किया है।

वायरल हो रहें इस वीडियो में ईवीएम और VVPAT मशीनें दिख रही हैं। इस वीडियो को शेयर करते हुए अंकित लाल ने लिखा, “राजस्थान मे पाली विधानसभा से बीजेपी प्रत्याशी ज्ञानचंद पारीख के घर के पास से EVM मशीन मिली है। क्या अब भी आप मानते हैं कि ये चुनाव निष्पक्ष हैं?” बीजेपी उम्मीदवार के घर में कथित तौर पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन रखे होने वाला वीडियो वायरल हो गया है।

हालांकि, यह वीडियो वायरल होने के बाद बैकफुट पर आए चुनाव आयोग ने शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा की पाली सीट के रिटर्निंग अधिकारी को हटाने का आदेश दिया है। वहीं, जोधपुर के राकेश को कार्यभार संभालने का आदेश दिया गया।

राजस्थान में हाइवे पर लावारिस पड़ी मिली सीलबंद EVM

इस बीच बारां जिले में हाइवे पर वोटिंग के दौरान इस्तेमाल की गई एक ईवीएम मिलने के बाद मशीन की सुरक्षा और गोपनीयता पर सवाल खड़े हो गए हैं। यहां एक सीलबंद मशीन लावारिस पड़ी मिली, जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया। बताया जा रहा है कि मतदान के बाद ईवीएम को सील कर दिया गया था। हालांकि, उसके साथ किसी तरह की छेड़खानी की कोई खबर नहीं है।

बारां जिले में किशनगंज विधानसभा क्षेत्र के शाहबाद इलाके में एक ईवीएम सड़क पर पड़ी मिलने के बाद इस घटना के संबंध में दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, प्रशानस ने इन ईवीएम को किशनगंज में स्ट्रांग रूम में रख दिया है।

छत्तीसगढ़ में रिलायंस के दो कर्मचारी EVM से छेड़छाड़ करने स्ट्रॉंग रूम में पहुँच गये

वहीं, छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के मतदान खत्म होने के बाद जगदलपुर स्ट्रांग रूम में घुसते हुए रिलायंस जियो के दो कर्मचारियों को हिरासत में लिया गया। समाचार एजेंसी एएनआई ने मुताबिक, छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में दो व्यक्ति ईवीएम के स्ट्रांग रूम में लैपटॉप के साथ प्रवेश करने की कोशिश में पकड़े गए, उन्होंने खुद को जियो का कर्मचारी बताया है।

पत्रकार प्रशांत कुमार ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है दावा किया कि गिरफ्तार पुरुषों की संख्या तीन थी और वे रिलायंस जियो कर्मचारी है। उन्होंने लिखा, 3 आदमी जो रिलायंस जियो के साथ काम करने का दावा करते हैं उन्हें छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में स्ट्रांग रूम से गिरफ्तार किया गया है।

मध्य प्रदेश में BJP नेता के होटल में चली गई EVM

इतना ही नहीं, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद शुजालपुर में भी ईवीएम मशीन को लेकर विवाद सामने आए हैं। जहां कांग्रेस के नेताओं का आरोप लगाया कि खुरई तथा कुछ अन्य चुनिंदा स्थानों पर मतदान के दो दिन बाद स्ट्रांग रूम तक पहुंचाई गईं तथा एक जगह होटल के कमरे में ईवीएम रखी गई थी।

कांग्रेस नेता सलमान निजामी ने भी ट्विटर पर एक वीडियो शेयर की थी. इस वीडियो के साथ उन्होंने लिखा, कि चुनाव ड्यूटी पर लगे सरकारी अधिकारी एक निजी होटल में रुके जिसका मालिक बीजेपी नेता है

2014 से पहले ईवीएम में खामियां बताने वाली बीजेपी अब EVM के गुणगान में क्यों व्यस्त है?- संजय सिंह

वहीं,  AAP नेता संजय सिंह ने इन्हीं खबरों को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) जमकर निशाना साधा है। संजय सिंह ने शनिवार (8 दिसंबर) को ट्वीट कर लिखा, EVM हाइवे पर चली गई, BJP नेता के होटल में चली गई, अम्बानी के कर्मचारी EVM से छेड़छाड़ करने स्ट्रॉंग रूम में पहुँच गये, हर जगह EVM की गड़बड़ी में BJP को ही वोट जाता है लेकिन 2014 के पहले EVM में ख़ामियाँ बताने वाली BJP अब EVM के गुणगान में क्यों व्यस्त है?

मोदी के भारत में ईवीएम में ‘रहस्यमयी शक्तियां’ आ गई हैं। सतर्क रहिए।- राहुल गांधी

बता दें कि कल (7 दिसंबर) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इन खबरों का उल्लेख करते हुए PM मोदी पर जमकर तंज़ कसा था। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं, आज के मतदान के बाद आप सतर्क रहिए।’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘मध्य प्रदेश में मतदान के बाद ईवीएम ने अजीबो-गरीब ढंग से व्यवहार किया: कुछ ने बस चुरा ली और दो दिन के लिए गायब हो गईं! कुछ मशीनें होटल में ड्रिंक करते पाईं गई। मोदी के भारत में ईवीएम में ‘रहस्यमयी शक्तियां’ आ गई हैं। सतर्क रहिए।’

बता दें कि, शुक्रवार (7 दिसंबर) को राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए दिनभर हुए मतदान के बाद उम्मीदवारों का भविष्य ईवीएम में कैद हो गया। वोटिंग के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक राज्य में 72.62 प्रतिशत मतदान हुआ है। वहीं, मतदान के बाद आए एग्जिट पोल के आकड़ों के मुताबिक, राजस्थान में कांग्रेस बड़ी जीत हासिल करने जा रही है। बता दें कि, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम, राजस्थान, तेलंगाना इन पांचों राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजें एक साथ 11 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे।