Press "Enter" to skip to content

BJP मंत्री गिरिराज सिंह ने फिर दिया विवादित बयान, बोले- ‘भारत के मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं, मुगलों के नहीं’

BJP leader Giriraj Singh controversial statement

हिन्दुस्तान जो अपनी गंगा-जमुनी तहज़ीब के लिए दुनियाभर मे मशहूर है लेकिन आज जिस दौर से हिंदुस्तान गुज़र रहा है उसमे भारतियों को बेहद समझदारी और सूझबूझ से काम लेने की ज़रुरत है। अलग अलग नेताओं के अजीब बयान को नकारते हुए हिन्दुस्तानियों को सौहाद्र और प्रेम से रहना चाहिए।

गौरतलब है कि 2014 में बीजेपी सरकार सत्ता में आने के बाद से देश की राजनीति में बड़ा बदलाव हुआ है जिसके बाद से यह लगभग तय सा हो गया है कि देश की चुनावी राजनीति बस हिंदुत्व-मुस्लिम पर ही की जाएगी। इस दौरान बस अल्पसंख्यकों के जिक्र या उनके हिमायती दिखने से परहेज करना होगा और राष्ट्रीय यानी बहुसंख्य्यक हिंदू भावनाओं का ख्याल रखना पड़ेगा।

BJP
BJP

बता दें कि, कई बार विपक्ष यह आरोप भी लगा चुका है कि बीजेपी देश को हिन्दू मुस्लिम के नाम पर बांटना चाहती है। वहीं, भाजपा नेता खुद इन आरोपों को अपने विवादित बयानों से और भी पक्का कर देते हैं। वहीं, बीजेपी नेताओं ने धर्म की राजनीति करने के लिए सबमें बड़ा मुद्दा ‘राम मंदिर और बाबरी मस्जिद’ को बना रखा है।

देश में अगले साल लोक सभा चुनाव होने है, ऐसे समय में बीजेपी नेता को सिर्फ राम मंदिर का ही एक मुद्दा नज़र आ रहा है। जिसपर बयान देकर वो वोटों की राजनीति कर सके। गौरतलब है कि, 2014 में भी बीजेपी हिन्दू समाज से राम मंदिर बनाने का वादा करके सत्ता में आई थी, लेकिन यह वादा भी सिर्फ चुनावी जुमला साबित हुआ।

BJP's Giriraj Singh
BJP’s Giriraj Singh

इसी बीच, अपने विवादास्पद बयान देकर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले बिहार के नवादा से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री शांडिल्य गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान देते हुए कहा कि,

भारत के मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं, वे मुगलों के वंशज नहीं हैं। इसलिए वे राम मंदिर का विरोध न करें और जो राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं, वे भी समर्थन में आ जाएं, वरना उनसे हिंदू नाराज हो जाएंगे।

‘सबका साथ, सबका विकास’ की रट लगाने वाले मंत्री ने कहा कि राम मंदिर जरूर बनना चाहिए। यह मुद्दा कैंसर की दूसरी स्टेज की तरह है, राम मंदिर नहीं बना तो यह लाइलाज हो जाएगा।

BJP leader Giriraj Singh controversial statement

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, गिरिराज सिंह रविवार को बागपत में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के बैनर तले आयोजित जनसंख्या कानून रैली को संबोधित करने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि जहां हिंदुओं की आबादी कम है, वहां उनकी आवाज बंद हो जाती है। प्रदेश के 20 जिलों में 20 साल बाद हिंदुओं की जुबान नहीं खुलेगी। देश में ऐसे 54 जिले हैं, जहां हिंदुओं की आबादी गिरी है और आने वाले सालों में 250 जिलों में यही हाल होगा।

उन्होंने आगे कहा कि सर्वधर्म समभाव सिखाना है तो मुसलमानों को सिखाओ। उन्होंने कहा कि सनातन को छोड़कर सर्वधर्म समभाव संभव नहीं है। देश में जहां हिंदू घटे, वहां सामाजिक समरसता टूटी है। देश का जितना नुकसान मुगलों ने नहीं किया, उतना नेताओं ने किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, “मैं सनातन धर्म के लिए बीजेपी, मंत्री पद व सांसदी छोड़ सकता हूं।” वहीं, पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि देश के विकास और सामाजिक समरसता के लिए जनसंख्या कानून जरूरी है। बढ़ती जनसंख्या देश की बड़ी समस्या है, देश में हर मिनट 29 बच्चे पैदा होते हैं। इस तरह देश में हर साल 2 करोड़ बच्चे पैदा हो रहे है, इसका मतलब है कि हम हर साल कई ऐसे देश पैदा कर रहे हैं जिनकी जनसंख्या 2 करोड़ के करीब है।

गिरिराज सिंह ने कहा कि अल्पसंख्यक की परिभाषा बदलनी चाहिए। जहां पांच प्रतिशत हैं वहां भी अल्पसंख्यक और जहां 90-95 प्रतिशत हैं वहां भी अल्पसंख्यक, यह गलत है। उन्होंने कहा कि जो जनसंख्या कानून न माने उसका मताधिकार छीन लेने, कानूनी व आर्थिक कार्रवाई जैसे प्रावधान किए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में किसी फिल्मकार की हिम्मत नहीं कि इस्लाम पर टिप्पणी करे, लेकिन हिंदू धर्म का रोज मखौल उड़ाते हैं।

बता दें कि, हाल ही गिरिराज सिंह ने कहा था कि जिस प्रकार 1947 में धर्म के आधार पर देश का विभाजन हुआ, 2047 में फिर से वैसी ही स्थिति होगी। ऐसे में सोशल मीडिया पर भी उनकी तीखी आलोचना हुई थी। लोगों ने उन्हें करारा जवाब देते हुए कहा था कि, “बाँटने की राजनिती बंद करिए साहब, देश का युवा बँटना नही बढ़ना चाहता है”

गौरतलब है कि बिहार के नवादा से सांसद अक्सर अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहते हैं। इतना ही नहीं, हाल ही में उन्होंने ट्विटर पर अपने नाम में शांडिल्य शब्द जोड़ा है।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: