Press "Enter" to skip to content

शर्मनाक: छेड़खानी व अभद्र टिप्पणियों का विरोध करने पर 30 छात्राओं के साथ स्कूल परिसर में मारपीट, 9 गिरफ्तार

Bihar school girls attacked

बिहार में नितीश सरकार के राज में नाबालिक लड़कियों के साथ होने वाले अपराधों में कोई कमी होती नज़र नहीं आ रही है। ताजा मामला, बिहार के सुपौल जिले से सामने आया है, जहां कुछ मनचले गर्ल्स स्कूल की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करते थे और स्कूल की दीवार पर अपशब्द लिखते थे। लड़कों की इन हरकतों से छात्राएं काफी परेशान थीं।

जब स्कूल की 30 से ज्यादा नाबालिग लड़कियों ने कथित तौर पर पड़ोस के एक स्कूल के लड़कों द्वारा की जा रही  छेड़खानी व अभद्र टिप्पणियों का विरोध किया तो कुछ लोगों ने उनके साथ मारपीट की। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अब तक 9 लोगों को गिरफ्तार किया है।

न्यूज एजेंसी भाषा के हवाले से जनता का रिपोर्टर में छपी खबर के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक मृत्युंजय कुमार चौधरी ने पीटीआई को बताया कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद इस मामले में एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। प्राथमिकी में नौ लोगों को आरोपी बनाया गया है।

सभी चोटिल लड़कियां जिले के त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के सुपौल में दरपखा गांव के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की छात्राएं हैं। घटना शनिवार शाम की है जब आवासीय विद्यालय की छात्राएं अपने परिसर में खेल रही थीं।

Bihar school girls attacked

सुपौल के जिलाधिकारी बैद्यनाथ यादव ने पीटीआई को बताया कि दोनों स्कूल एक ही परिसर में हैं जिनकी इमारतें अलग हैं लेकिन खेल का मैदान एक ही है। लड़कों ने कथित तौर पर लड़कियों के स्कूल की दीवार पर कुछ अभद्र टिप्पणी लिख दी थीं। लड़कियों ने इसका विरोध किया और लड़कों को पीट-पीटकर भगा दिया।

बाद में सभी नाबालिग लड़कों ने अपने माता-पिता को यह बात बताई जिसके बाद उनकी माताओं ने अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर स्कूल परिसर में घुसकर लड़कियों पर हमला बोल दिया। यादव ने बताया कि घटना के समय खेल के मैदान में 74 बालिकाएं थीं और उनमें से 30 को चोट आई।

खबर के मुताबिक, इस घटना को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता व बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने घटना को लेकर नीतीश कुमार की सरकार पर निशाना साधा है।

तेजस्वी ने ट्वीट करते हुए लिखा, बिहार में सुपौल के त्रिवेणीगंज के कस्तूरबा गांधी गर्ल्स स्कूल में घुसकर असामाजिक तत्वों द्वारा हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं को बुरे तरीके से मारा-पीटा गया है। बेखौफ गुंडों की मार से घायल सभी छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सरकार नरम है, अपराध चरम पर है।

Facebook Comments
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

%d bloggers like this: