Bhim Army chief Chandrashekhar Ravan released
Bhim Army chief Chandrashekhar Ravan released

Bhim Army chief Chandrashekhar Ravan released

Install Ravish Kumar App

Install Ravish Kumar App Ravish Kumar.

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को सहारनपुर की जेल से रिहा कर दिया गया है। बता दें कि, चंद्रशेखर को मई 2017 में सहारनपुर में जातीय दंगा फैलाने के आरोप में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासूका) के तहत जेल भेजा गया था।

गुरुवार (13 सितंबर) रात 2.30 बजे उन्हें जेल से रिहा किया गया है। उन्हें तय समय से पहले ये रिहाई दी गई है। इससे पहले बुधवार को योगी सरकार ने चंद्रशेखर को  जेल से रिहा करने के आदेश दिए थे।

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, जेल से निकलने ही चंद्रेशखर ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हराना ही उनका मकसद है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सत्ता ही नहीं, विपक्ष में भी नहीं रह पाएगी।

ये खबर भी पढ़ें  उत्तर प्रदेश: योगी के मंत्री की फिसली जुबान, कहा- BJP सरकार में 10 गुना बढ़ गया भ्रष्‍टाचार

रावण ने कहा, “सरकार को सुप्रीम कोर्ट की तरफ से फटकार लगाई जा रही थी जिससे सरकार डरी हुई थी, इसलिए उन्होंने खुद को बचाने के लिए जल्दी रिहाई का आदेश दिया। मैं आश्वस्त हूं कि वह 10 दिनों के भीतर मेरे खिलाफ कुछ न कुछ आरोप लगाएंगे। 2019 में बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए मैं अपने लोगों से बात करूंगा।”

Bhim Army chief Chandrashekhar Ravan released

सहारनपुर में जातीय हिंसा भड़काने का आरोप में रावण को यूपी पुलिस ने पिछले साल जून महीने में हिमाचल प्रदेश के डलहौजी से गिरफ्तार किया था।

बता दें कि योगी सरकार ने गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत जेल में बंद चंद्रशेखर को समय से पहले छोड़ने का फैसला किया। गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार के इस फैसले को 2019 के एक चुनावी दांव के रूप में भी लिया जा रहा था। मिली जानकारी के अनुसार उन्हें नवंबर में रिहा किया जाना था।

ये खबर भी पढ़ें  वायरल वीडियो! UP पुलिस ने महिला को DM के ऑफिस से घसीटकर निकाला