Ankit saxena murder

क्या अंकित सक्सेना का अंतिम संस्कार हुआ ?

अगर हां, तो कहां? क्या मनोज तिवारी उस अंतिम संस्कार मे गये?

दक्षिणपंथी गुट और यहाँ तक कि कुछ “पूर्व-मित्रो” द्वारा मेरे ऊपर हमले की परवाह ना करते हुये, मै अंकित सक्सेना का पर्दाफाश करता रहूँगा

कुछ सवाल जो अनुत्तरित हैं:

1. क्या रघुबीर नगर ब्लॉक बी में एक मुस्लिम परिवार था? एक टाइम्स आफ इंडिया की रिपोर्ट कहता है कि वहाँ तीन साल पहले एक परिवार था! तो क्या वो कहना चाह रहे है कि प्रेमप्रसंग 3 साल पुराना था या कि अंकित और वो महिला गुप्त रूप से मिलते थे? यदि हाँ, तो वे यह खुलकर क्यों नहीं कह रहे हैं? टाइम्स आफ इंडिया या हिंदुस्तान टाइम्स कहानी पर आगे काम क्यो नही कर रहे हैं?

2. दीपक, अंकित के दोस्त की इस पूरे मामले मे क्या भूमिका है? दीपक बजरंग दल का सदस्य है। जब बीजेपी नेता मनोज तिवारी अंकित के घर गये थे तो ये ‘खून का बदला खून से लेंगे’ नारा लगा रहा था।

ये खबर भी पढ़ें  मोदी राज में बढ़ती बेरोज़गारी पर एक कविता

3. अगर अंकित की हत्या हो गई तो उसका कहीं अंतिम संस्कार भी हुआ होगा? कब और कहाँ उसका अंतिम संस्कार हुआ? क्या कोई जवाब दे सकता है? मनोज तिवारी ने अंकित के घर का दौरा किया — सही? लेकिन मनोज तिवारी या किसी अन्य भाजपा नेता की अंकित के अंतिम संस्कार मे भाग लेने की कोई खबर क्यों नहीं है? क्या कोई रिपोर्ट है, कहीं भी, कि अंकित का अंतिम संस्कार हुआ? ऐसा हाई प्रोफाइल मामला — और अंतिम संस्कार नही?

4. एक वीडियो क्लिप दिखाई जा रही है – जो एक सीसीटीवी फुटेज कहा जा रहा है जिसमें अंकित हत्या के स्थान पर बिल्कुल घटना के ठीक पहले ही है । अब, बताइये कि अगर अंकित के हत्या के ठीक पहले की cctv फुटेज है तो फिर उसकी हत्या की सीसीटीवी रिकॉर्ड क्यो नही है? हो सकता है कि अंकित को मारने से पहले, अंकित के हत्यारों ने सीसीटीवी बंद कर दिया था? अगर ऐसा है तो रिपोर्ट मे ऐसा कुछ क्यों नहीं दर्ज है?

ये खबर भी पढ़ें  किसानों को अब खेती करना बंद कर देना चाहिए...!!!

ये भी पढ़ें- ‘युद्ध की तैयारी करो और पाकिस्तान के चार टुकड़े करो’- सुब्रमण्यम स्वामी

5. क्या आपने उस महिला के माता-पिता और रिश्तेदारों के पहचान / नाम के बारे में कोई भी समाचार रिपोर्ट आदि देखा? महिला नाम गुप्त रखने का कारण समझा जा सकता है (हालांकि उसका नाम, शाहजादी, शाना आदि बता दिया गया है)! लेकिन क्या कभी आपने ऐसा मामला सुना है जहां हत्या अभियुक्त का नाम गुप्त रखा गया हो? क्या अंकित हत्या का मामला राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है?

6. प्रत्यक्षदर्शी का जो रिकॉर्ड हिंदुस्तान टाइम्स मे छपा है वो विरोधाभासी हैं: ” हालांकि सक्सेना की माँ, पड़ोसी और गवाह का कहना है कि अंकित घटना के समय पर कार चला रहा था, डीसीपी (पश्चिम) विजय कुमार ने दावा किया कि अंकित मोटरसाइकिल पर था!”

ये खबर भी पढ़ें  हरियाणा में युवा पत्रकार बेरहमी से हत्या, सड़क किनारे मिला शव

तो अंकित हत्या के समय कार चला रहा था या मोटर बाइक?

7. अंकित के परिवार का कहना है कि अंकित हमले के 2 सेकंड के भीतर गिर गया। लेकिन हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट कहती है कि: ” सक्सेना चाकू के वार के तुरंत बाद नही मरा। उसका गला काट दिया गया था, लेकिन वह फिर भी अपने आप कई मीटर तक चला. वह लगभग 3-4 मिनट तक खड़ा था और अपनी कार की ओर सड़क के दो साइड्लेन भी पार गया। उसके बाद वो गिरा और मर गया…”
इससे आपको क्या समझ आया?

एक बार फिर से सवाल कि अंकित की हत्या के लिए जेल मे कौन है?

वीडियो में दिखी लड़की कौन है… उसे किस नारी निकेतन मे भेजा गया है?