AMU student protest
AMU student protest

AMU student protest

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) छात्रसंघ ने पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर गत दो मई को परिसर में हंगामा करने वाले तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर जारी अपने धरना-प्रदर्शन को और तेज करने का फैसला किया है।

न्यूज एजेंसी भाषा के हवाले से जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, एएमयू छात्रसंघ की सोमवार रात को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। इस बीच, छात्रसंघ के अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी, सचिव मुहम्मद फ़हद और पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने अनशन में हिस्सा लिया।

ये खबर भी पढ़ें  मदरसा शिक्षकों पर नक्वी, शहनवाज, नजमा,एमजे अकबर, मोहसिन रज़ा क्यों मौन ?

मालूम हो कि एएमयू छात्रसंघ के नेताओं ने विश्वविद्यालय परिसर में करीब दो हफ्ते से जारी धरना-प्रदर्शन को समाप्त करने की पहल के तहत कल जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की थी। बैठक के दौरान यह मांग भी रखी गयी कि गत दो मई को एएमयू के छात्रों पर लाठीचार्ज करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई हो।

AMU student protest

एएमयू के यूनियन हॉल में पाकिस्तान के राष्ट्रपिता जिन्ना की तस्वीर लगी होने के विरोध में तथाकथित हिन्दूवादी संगठनों के कई कार्यकर्ताओं ने पिछली दो मई को एएमयू परिसर में घुसकर हंगामा किया था। उस वक्त पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी भी एएमयू के गेस्ट हाउस में मौजूद थे।

ये खबर भी पढ़ें  VIDEO: भाजपा नेता की एक बाद फिर दिखी गुंडागर्दी, चुनाव हारने पर SDM को मारा थप्‍पड़

विश्वविद्यालय के छात्रों ने हंगामा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिये प्रदर्शन किया था। इस दौरान उनकी भीड़ को तितर-बितर करने के लिये पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। उसके बाद से विश्वविद्यालय के बाब-ए-सैयद गेट के पास छात्र-छात्राओं का धरना-प्रदर्शन जारी है।