India

बंगले में लगी टोंटी लेकर अखिलेश ने राज्यपाल पर साधा निशाना, कहा- “बंगले में मैंने सामान लगवाया था, उखाड़ लाया”

Akhilesh Yadav government bungalow damage row

Akhilesh Yadav government bungalow damage row

Download Our Android App Online Hindi News

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के सरकारी बंगले को खाली करने से पहले ही तोड़फोड़  को लेकर मचा घमासान थमने का नाम नही ले रहा है। राज्यपाल राम नाईक ने इस मामले में कार्रवाई करने के लिए राज्य की योगी सरकार से सिफारिश की है, वहीं जांच कराने की भी बात कही गई है। अब इसी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने मीडिया को संबोधित किया है।

जुड़ें हिंदी TRN से

Akhilesh Yadav government house

Akhilesh Yadav government house

खबर के मुताबिक, राज्यपाल की चिट्टी के बाद अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर राज्य सरकार और राज्यपाल दोनों पर निशाना साधा है। प्रेस कांफ्रेंस में अखिलेश यादव बंगले में लगवाई गयी नल की टोटी लेकर पहुंचे। उन्होंने कहा कि मैं पूरी टोटी देने को तैयार हूँ। हर इंसान अपनी पसंद का घर बनाता है, अगर हमें पसंद है तो अपने पैसा से पूरा करेगा, दूसरे के पैसे से अपनी पसंद पूरी नही की जा सकती है।

ये खबर भी पढ़ें  लाभ के पद मामले पर बोले यशवंत सिन्हा, ‘तुगलकशाही’ है AAP के 20 विधायकों पर राष्ट्रपति का फैसला'

अखिलेश यादव ने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर की बौखलाहट से परेशान हो कर षड्यंत्र किया जा रहा है। लोग जलन और गुस्से हैं। उन्होंने राज्य संपत्ति विभाग से सवाल किया कि बिना इन्वेंट्री चेक के कैसे घर ले लिया। उन्होंने बताया कि आईएएस मृत्युंजय नारायण हमारे घर गये थे साथ ही मुख्यमंत्री के OSD अभिषेक भी फोटो ग्राफर ले के गये थे। मेरा जो सामान था मैं ले गया। अखिलेश ने बताया कि मेरे घर में कोई स्वीमिंग पूल नही है। लोग जलन और गुस्से में अंधे हो गए।

आज तक की रिपोर्ट के मुताबिक, अखिलेश ने कहा कि मेरे घर में मंदिर देखकर लोगों को जलन हो रही है।  कुछ लोग जलन में अंधे हो गए हैं। उन्होंने कहा था कि जिस समय ये घर हमें मिला था, काफी हालत ठीक नहीं थी पिछले एक-साल में मैंने काम करवाया।

Akhilesh Yadav government bungalow damage row
Akhilesh Yadav

Akhilesh Yadav

प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश ने टोंटी दिखाते हुए कहा कि एक लैपटॉप की कीमत से ज्यादा टोंटी की कीमत नहीं है। उन्होंने कहा कि बंगले में जो मंदिर है वो हमने बनवाया था, हमें मेरा मंदिर लौटा दो. अखिलेश ने कहा कि दो निर्दोष जिलाधिकारियों को सस्पेंड कर दिया, लेकिन आज भी पूरे यूपी में बड़े पैमाने पर ओवरलोडिंग हो रही है।

ये खबर भी पढ़ें  उन्नाव गैंगरेप केस: BJP विधायक कुलदीप पर रेप का आरोप सही, पुलिस कर रही थी बचाने की कोशिश: CBI

उन्होंने कहा कि ये लोग गोरखपुर की हार स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम मानते हैं कि ये फैसला सुप्रीम कोर्ट का था लेकिन सरकारें भी षडयंत्र करती हैं। अखिलेश बोले कि टोंटी तो बहुत छोटी चीज है, हमारी कुछ चीजें मुख्यमंत्री आवास में भी हैं ऐसा है तो हमें वो भी वापस कर दीजिए।

अखिलेश ने कहा कि अगर जांच में कोई चीज गायब मिले तो उसे हम वापस देने को तैयार है लेकिन ये लोग जले भुने लोग हैं। इन्हें काम से कोई मतलब नहीं है, क्या ये सरकार ऐसा बस स्टैंड बना सकती है। पूर्व यूपी सीएम बोले कि ये अधिकारी लोग मुझसे कहते थे कि आपका एहसान नही भूलूंगा, आज बदल गए।

ये खबर भी पढ़ें  गुजरात चुनाव: राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछा 5वां सवाल

अखिलेश ने गवर्नर राम नाईक पर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्यपाल के अंदर संविधान की आत्मा नहीं है, बल्कि आरएसएस की आत्मा है।

आरोपों पर क्या बोले थे अखिलेश?

वहीं, सरकारी बंगले में तोड़फोड़ के आरोप पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि उन पर टोंटी खोलने का आरोप लगाया जा रहा है. फिलहाल वह लखनऊ से बाहर हैं और वापस लौटते ही सबसे पहले टोंटी खरीद कर भिजवा देंगे।

Akhilesh Yadav1

Akhilesh Yadav1

उन्होंने कहा था, ‘अखबार लिख रहे हैं कि हम टोंटी ले गए. बीजेपी सरकार को जो टोंटी चाहिए, मैं भिजवाने को तैयार हूं। अभी दो दिन सैफई में हूं, दो दिन बाद लखनऊ जाऊंगा, बताकर जाऊंगा। जो टोंटी अच्छी होगी दे दूंगा। कह रहे हैं आवास में तोड़फोड़ कर दी है। हमारा समान था, ले गए। अगर आप का एक भी सामान हमने लिया है तो सूची भिजवा देना, इसी एक्सप्रेसवे से सामान भिजवा देंगे।’

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top