Business

मोदी राज में भारत बिजनेस ऑप्टिमिज्म रैंकिंग में 7वें स्थान पर फिसला

Modiraj India slips 7th position

नई दिल्ली: मोदी सरकार के केंद्र में आने के बाद से ही लगातार विदेशी दौरे भी भारत की गिरती अर्थव्यवस्था को सहारा देने में नाकाम रहे हैं। विदेशी दौरों पर अरबों खर्चने के बाद भी अभी तक कहीं से भी एफ़डीआई के आने के संकेत नहीं है। रही साहिह कसर नोटबंदी और जीएसटी ने पूरी कर दी है।

Download Our Android App Online Hindi News

हाल ही में एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि ग्लोबल इंडेक्स ऑफ बिजनेस ऑप्टिमिज्म (GIOBO) के मामले में भारत की रैंकिंग गिरी है। सितंबर तिमाही के दौरान बिजनेस ऑप्टिमिज्म इंडेक्स में भारत दूसरे स्थान से खिसकर 7वें स्थान पर आ गया है। ग्रांट थॉर्नटन इंटरनेशनल बिजनेस रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

ज्ञात रहे कि बिजनेस ऑप्टिमिज्म इंडेक्स में भारत पिछले 3 महीनों से दूसरे स्थान पर बना हुआ था। फिलहाल भारत को 5 रैंक का नुकसान हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार इंडेक्स में इंडोनेशिया टॉप पर है, जिसके बाद फिनलैंड, नीदरलैंड, फिलीपींस, ऑस्ट्रिया और और नाइजीरिया हैं।

रिपोर्ट की खास बातें -ग्लोबल सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक इंडियन बिजनेसेज को अगले 12 महीनों के लिए रेवेन्यू बढ़ने की उम्मीद पहले से कम हुई है।…

इंडियन बिजनेसेज का मानना है कि स्किल्ड वर्कफोर्स की कमी है और फाइनेंस की भी शॉर्टेज बढ़ी है। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस (Ease of doing busniness)की सुधरी है रैंकिंग हाल ही में वर्ल्ड बैंक द्वारा जारी रिपोर्ट्स  के अनुसार ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत की रैकिंग में 30 पायदान का सुधार हुआ है। जिसका श्रेय दिल्ली की आम आदमी पार्टी किस अरकर को जाता है। इस मामले में भारत को दुनिया में 100वीं रैंक मिली है। पिछले साल भारत की रैंकिंग 130 थी। न्यूजीलैंड वर्ल्ड बैंक इंडेक्स में 190 देशों देशों में टॉप पर है।

ये खबर भी पढ़ें  मोदी ने जापान को दिखाई विकास कि झूठी तस्वीर, झुग्गियों को छुपाया

ये भी पढ़ें: GST में मिली राहत पर रविश का तंज कहा,चुनाव आयोग की आचार संहिता का पड़ गया अचार, ढह रही संवैधानिक संस्थाए

You could follow TR News posts either via our Facebook page or by following us on Twitter or by subscribing to our E-mail updates.

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

To Top