Cash transactions capped
Cash transactions capped

Cash transactions capped

नई दिल्ली: मोदी सरकार काले धन के खिलाफ एक अहम फैसला लेने जा रही.मोदी सरकार एक कानून बना रही है,जिसमे नए वित्तीय संशोधन विधेयक के तहत नकद लेनदेन की सीमा 3 लाख रुपये से घटाकर 2 लाख रुपये करने का प्रस्ताव है।

इस कानून के तहत अगर कोई एक दिन में दो लाख से ज्यादा का लेनदेन करता है तो सरकार उस पर 100% जुरमाना लगा सकती है।
सरकार ने काले धन पर लगाम लगाने के लिए लोकसभा में वित्तीय संशोधन विधेयक लोकसभा में पेश किया है।

ये खबर भी पढ़ें  मोदी राज में भारत बिजनेस ऑप्टिमिज्म रैंकिंग में 7वें स्थान पर फिसला
Install Ravish Kumar App

Install Ravish Kumar App Ravish Kumar.

सरकार ने नकद की लेनदेन को 3 लाख रूपये से घटाकर 2 लाख करने को कहा है।

इसके साथ ही इतनी बड़ी लेनदेन के लिए पैन नंबर और रिटर्न भरने के लिए आधार नंबर भी अनिवार्य कर दिया जायेगा।

 

दो लाख से ज्यदा का लेनदेन करते समय पकडे जाने पर सख्त जुरमाना लगाया जायेगा. केंद्र सरकार के मुताबिक यह जुर्माना 2 लाख रुपये से अधिक के लेनदेन की राशि के बराबर होगा.

Cash transactions proposed to be capped at Rs 2 lakh

The government on Tuesday moved a fresh proposal to cap cash transactions at Rs 2 lakh instead of Rs 3 lakh as provided in the Budget, as it introduced as many as 40 amendments to the Finance Bill in an “unprecedented move”.

ये खबर भी पढ़ें  मोदी सरकार के फर्जी आयकर आंकड़े